नौजवां पीढ़ी करुणेश जी के सिद्धान्तों से प्रेरणा ले-बेबी रानी मौर्य

ब्रज पत्रिका, आगरा। उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने कहा है कि स्वाधीनता संग्राम सेनानियों की स्मृति को नमन करके ही आज की युवा पीढ़ी को नई सोच, नया विचार मिल सकता है।

राज्यपाल श्रीमती मौर्य रविवार को आगरा में स्वाधीनता संग्राम सेनानी स्व.रोशनलाल गुप्त ‘करुणेश’ के फेसबुक पेज पर “करुणेश परिवार” द्वारा प्रारंभ किए जा रहे “विस्मृत सेनानियों की याद” नामक लाइव कार्यक्रम के उद्घाटन बाद पटल पर उपस्थित जनमानस को ऑनलाइन वीडियो के जरिये संबोधित कर रहीं थीं।

उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों ने राष्ट्र की आजादी के लिए जो संघर्ष किया, उससे मौजूदा युवा पीढ़ी को बहुत कुछ सीखना चाहिए, साथ ही इससे प्रेरणा भी लेनी चाहिए । इससे उनको राष्ट्र के प्रति सम्मान का बोध होगा और साहस का संचार होगा, जिसकी आज उनको बहुत आवश्यकता है।

राज्यपाल बेबीरानी मौर्य ने स्वतंत्रता संग्राम व उसके उपरांत राष्ट्र व समाज को करुणेश जी के योगदान व उनके जीवन संघर्ष का विस्तार से वर्णन किया। मेयर बनने के उपरांत 1996 में करुणेश जी से अपनी भेंट और उसके बाद उनके साथ कई मुलाकातों का जिक्र करते हुए राज्यपाल ने कहा कि उनसे मुझे बहुत प्रेरणा मिली और उनसे प्रेरित होकर मैंने समाज के लिए अनेक कार्य किए, महिलाओं के लिए, गरीबों के लिए भी कार्य किए। निःसंदेह वह मेरे सच्चे प्रेरणास्रोत थे।

इस कार्यक्रम के प्रारंभ में श्रीमती मौर्य ने करुणेश जी के चित्र पर माल्यार्पण कर उनको श्रद्धा सुमन अर्पित किए। इस मौके पर करुणेश स्मृति यू-ट्यूब चैनल का भी शुभारंभ किया गया।

स्व.रोशनलाल गुप्त ‘करुणेश’ परिवार ने विस्मृत सेनानियों व शहीदों को याद करने के लिए अभियान शुरू किया है। इसके तहत करुणेश जी के फेसबुक पेज पर हर रविवार सायं 5:00 बजे देश के वरिष्ठ स्वाधीनता सेनानियों, कवियों, साहित्यकारों को पटल पर आमंत्रित करके उनके विचारों का आदान-प्रदान किया जायेगा, ताकि युवा पीढ़ी सहित अन्य सभी को उनके विषय में जानकारी प्राप्त हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!