भ्रष्टाचार के खिलाफ गल्ला कारोबार बंद करने का आह्वान, किसानों से भी माल नहीं लाने की अपील!

ब्रज पत्रिका, आगरा। उ.प्र. व्यापार मण्डल की छह जुलाई को हुई मीटिंग में मंडी शुल्क के संबंध में कई अहम निर्णय लिए गए। मीटिंग में व्यापारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के प्रति आभार प्रकट किया कि उन्होंने मंडी शुल्क और अनावश्यक लिखा पड़ी से राहत प्रदान की है, उसके साथ ही भ्रष्टाचार पर भी लगाम लगाई है। मगर अफसोस की बात कि जितनी भी मंडी समितियाँ बनी हैं उनको प्रदेश सरकार के नियमों के तहत मंडी शुल्क देना पड़ रहा है। इस संबंध में व्यापारियों द्वारा सांकेतिक धरना देकर मुख्यमंत्री को भी इस समस्या से अवगत कराया जा चुका है। मुख्यमंत्री ने समस्या के समाधान का आश्वासन भी दिया था, मगर भ्रष्ट अधिकारियों ने उनको गुमराह करते हुए व्यापारियों के हितों पर कुठाराघात की मानो ठान ली है। इनकी हरकतों से अगर गल्ला व्यापार नहीं चलेगा तो जिन लाखों मजदूरों को इस क्षेत्र में रोजगार मिल रहा है वो सिलसिला बंद हो जायेगा।

इस मीटिंग में प्रांतीय अध्यक्ष श्री श्याम बिहारी मिश्रा ने अपील की है कि मंडी शुल्क के विरोध में दिनांक नौ, 10, 11 जुलाई को गल्ले का कारोबार बंद रहेगा। साथ ही किसानों से भी अनुरोध किया है कि वे अपना माल इस दौरान मंडियों में नहीं लाएं। अगर मौजूदा दौर में व्याप्त भ्रष्टाचार को खत्म करने में कामयाबी मिली तो आपका माल महँगा बिकेगा। संगठन के प्रदेश अध्यक्ष श्याम बिहारी मिश्र, प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र गुप्ता और दिलीप सेठ द्वारा हस्ताक्षरित एक पत्र भी इस संबंध में व्यापारियों और मीडिया के लिए जारी किया गया है।

जिलाध्यक्ष (आगरा), निर्मल कुमार जैन और जिला महामंत्री गिर्राज कुमार अग्रवाल के मुताबिक इस संबंध में आयोजित आगरा जिला इकाई की वर्चुअल मीटिंग में प्रांतीय उपाध्यक्ष टीएन अग्रवाल, प्रदेश युवा मंत्री दीपक शर्मा, युवा जिलाध्यक्ष राज कुमार गुरनानी, गल्ला मंडी अध्यक्ष जय प्रकाश, अछनेरा से राजेन्द्र प्रसाद , फतेहपुर सीकरी से राकेश शक्करपुरिया, खंदौली से जय प्रकाश, एत्मादपुर से मुकीम फरीदी, फतेहाबाद से रमाकांत गुप्ता, किरावली से विनोद अग्रवाल, खेरागढ़ से संजय कुमार, आगरा सब्जी मंडी से सुलेमान सहित सुनील जैन, सुदेश, अतुल बंसल आदि ने भाग लिया और बंद को व्यापारियों के हित में अपना समर्थन दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!