UA-204538979-1

खुशाली कुमार ने अपनी अगली म्यूजिकल पोएट्री ‘इश्क ख़ुदा है’ पेश की

ब्रज पत्रिका। बाबा बुल्ले शाह फकीर के शब्दों से प्रेरित  होकर, खुशाली कुमार ने अपनी अगली म्यूजिकल पोएट्री लिखी है। एक्टर-मॉडल-फैशन डिजाइनर खुशाली कुमार बहुमुखी प्रतिभा की धनी हैं। हाल ही में उन्होंने एक भावनात्मक कविता ‘नॉर्मल डेज’ के जरिए भावुक विचार व्यक्त किए, जो इस कठिन वक़्त के दौरान दर्शकों के बीच काफी सुना गया। बहुआयामी व्यक्तित्व की धनी इस कलाकार ने अब बाबा बुल्ले शाह फकीर की उत्कृष्ट आध्यात्मिक कविता के शानदार शब्दों से प्रेरित ‘इश्क खुदा है’ नामक एक स्पेशल म्यूजिकल पोएट्री के साथ फिर आयी हैं।

बाबा बुल्ले शाह एक सूफी कवि और दार्शनिक थे और पूरी दुनिया में उन्हें ‘पंजाबी ज्ञानोदय का जनक’ माना जाता था। जहां खुशाली ने लॉकडाउन के दौरान लिखी गई कविता को पढ़ा है, उनकी बहन, लोकप्रिय गायिका तुलसी कुमार ने ‘इश्क खुदा है’ में कुछ पंक्तियाँ गाई हैं। म्यूजिकल पोएट्री आशा की एक प्रेरणादायक प्रेम कहानी है, जो इतने दिनों बाद आज भी प्रासंगिक बनी हुई है।

इस म्यूजिकल पोएट्री के बारे में बात करते हुए, खुशाली कुमार कहती हैं,

“बाबा बुल्ले शाह फकीर के शब्द एक सदी के बाद भी उन सभी के लिए प्रासंगिक हैं जो प्यार करते हैं। ऑक्सीजन और भोजन की तरह ही, प्यार भी हमारे लिए जरूरी है, भले ही प्यार हमें हमारे दर्दनाक अतीत में ले जाता हो। यह म्यूजिकल पोएट्री अपनी यात्रा में जीवन में प्यार की तलाश में परेशान रिलेशनशिप्स के बारे में बताती है. कभी-कभी हमारे बुजुर्गों के खूबसूरत शब्द जैसे कि बाबा बुल्ले शाह फकीर की लाइनें ‘इश्क खुदा है’ हमारा मार्गदर्शन करती है और हमारी आंतरिक आवाज बन जाती हैं।”

यह म्यूजिकल पोएट्री छह अगस्त को टी-सीरीज़ के यू-ट्यूब चैनल पर आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!