ग्लोबल ताज इंटरनेशनल फ़िल्म फ़ेस्टिवल का बॉलीवुड लेखक मनोज संतोषी ने किया कर्टेन रेज़र, 15 से 17 नवंबर तक होगा आगरा में फिल्मी हस्तियों का जमावड़ा

आगरा, ब्रज पत्रिका
आगरा में पहली बार इंटरनेशनल फिल्मों का जमाबड़ा लगने जा रहा है, शहर में तीन दिनों तक स्वदेशी एवं विदेशी फिल्मों की स्क्रीनिंग होगी, जिसमें एक से बढ़कर एक बेहतरीन कहानियां देखने को मिलेंगी। शनिवार को फेस्टिवल का पोस्टर विमोचन कि या गया। शनिवार को आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में ग्लोबल ताज इंटरनेशनल फ़िल्म फ़ेस्टिवल के संरक्षक रंजीत सामा, फ़ेस्टिवल डायरेक्टर सूरज तिवारी और मशहूर बॉलीवुड लेखक व ‘भाभी जी घर पर हैं’, ‘जीजा जी छत पर हैं’, ‘हप्पू की उल्टन पलटन’ आदि सीरीज के प्रसिद्ध स्क्रिप्ट राइटर मनोज संतोषी ने मिलकर फ़ेस्टिवल के पोस्टर से पर्दा उठाया और संबंधित जानकारी दी। नवंबर माह की 15, 16, 17 तारीख को आयोजित होने वाले ग्लोबल ताज इंटरनेशनल फ़िल्म फ़ेस्टिवल में करीब 15 देशों की फिल्में भगीदारी कर रहीं हैं. जूरी द्वारा सिलेक्शन के बाद इंडिया के साथ छह देशों की फिल्म्स की स्क्रीनिंग फ़ेस्टिवल में की जाएगी। फिल्मों के विषय सामाजिक सरोकार, समाज में संदेश देने वाली फिल्में, शार्ट फिल्में, डॉक्यूमेंट्री फिल्में, एनीमेशन फिल्में हैं। साथ ही म्यूजिक वीडिओज़ भी होंगे।
ये शहर का सौभाय है कि फेस्टिवल में इंडियन सिनेमा के पायनियर दादा साहब फ़ाल्के के नाती चंद्रशेखर भी आ रहे हैं, जिनके साथ हम दादा साहब को सिनेमा पर बात करके ट्रिब्यूट देंगें। फ़ेस्टिवल का उद्धघाटन बॉलीवुड के प्रसिद्ध एक्टर रज़ा मुराद के कर कमलों द्वारा किया जाएगा। जूरी में विनोद गनातारे, आकाश आदित्य लामा, रविन्द्र अरोरा, गजानन, जितेंद्र शर्मा, उत्तम ढाकल, शिवा बयप्पा, पुतुल गुप्ता आदि शामिल हैं।
फ़ेस्टिवल की अध्यक्षता डॉ. बीआरए यूनिवर्सिटी के वीसी डॉ. अरविंद कुमार दीक्षित करेंगे, साथ ही डॉ. लवकुश मिश्र फ़ेस्टिवल के मुख्य रूप से गेस्ट रहेंगे। इसके इलावा फेस्टिवल का मुख्य कार्यक्रम मास्टर्स टॉक शो होगा, साथ ही क्रिएटिव वर्कशॉप भी आयोजित की जाएंगी, इन सबका फायदा फिल्ममेकर्स को मिलेगा। मास्टर टॉक शो जाने-माने गीतकार एवं लेखक सुधाकर शर्मा का है।
इस दौरान फेस्टिवल डायरेक्टर सूरज तिवारी ने बताया कि फिल्ममेकर्स को फाइनल स्क्रीनिंग के बाद अवार्ड्स भी दिए जाऐंगे। इसके साथ-साथ ‘दादा साहेब फाल्के लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड’ एवं दादा साहब की पत्नी व फ़िल्म इंडस्ट्री की पहली तकनीशियन सरस्वती जी को समर्पित सम्मान, ‘सरस्वती बाई दादा साहब फ़ाल्के सम्मान’ दिया जाएगा। यह सम्मान भारतीय सिनेमा में योगदान के लिए दिया जाएगा।
उन्होंने बताया कि शहर में फ़ेस्टिवल आयोजित होने की वजह से यहाँ की लोकेशन्स एक्सप्लोर होंगीं और आने वाले वक्त में यहाँ शूटिंग की गतिविधियां बढ़ेंगी, रोज़गार भी बढ़ेगा, इस प्रकार देश-विदेश के फिल्ममेकर्स उत्तर प्रदेश की फ़िल्म नीति और सब्सिडी का लाभ भी ले सकते हैं।
फ़ेस्टिवल संरक्षक रंजीत सामा ने बताया कि इस तीन दिवसीय फ़ेस्टिवल में देश-विदेश से प्रोड्यूसर्स, फिल्ममेकर्स,प्रोडक्शन हॉउसेस, राइटर्स, एक्टिर्स, शिरकत करेंगे। विदेशी फ़िल्म्स में यूएसए की फिल्म सेज सरिया, बांग्लादेश के राज़ीबुल की फ़िल्म, यूके के नवनीत की डॉक्यूमेंट्री, कनाडा के सिद्धार्थ मुरजनी की फ़िल्म, स्वियज़रलैंड के यूवी की फ़िल्म, फ्रांस के एल दी एन एवं लंदन की फ़िल्म आदि देशों की फ़िल्म के साथ-साथ भारत के सभी प्रदेशों की फिल्म्स स्क्रीन हो रहीं हैं। पहली बार उत्तराखंड प्रदेश की फ़िल्म मेजर निराला भी यहाँ प्रदर्शित की जाएगी, यह रमेश पोखरियाल निशंक जी की फ़िल्म है।
इस दौरान स्क्रीन राइटर मनोज संतोषी ने कहा कि फ़ेस्टिवल देश-विदेश में अपनी पहचान बना रहा है, जिसका लाभ आगरा और उत्तर प्रदेश की फ़िल्म फ्रिटर्निटी के साथ-साथ फ़िल्म इंडस्ट्री को भी होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि वह जल्द आगरा, अलीगढ़ ओर उत्तर प्रदेश में अपनी फिल्म या सीरियल शूट करेंगे, जिससे यहाँ एक पैरेलल इंडस्ट्री को धीरे-धीरे बढ़ावा मिले।
फ़ेस्टिवल में मुम्बई से गेस्ट ऑफ ऑनर्स की लिस्ट में एफडव्लूआईसीई के प्रेसीडेंट बीएन तिवारी और उनके पदाधिकारी, विफ़पा के जनरल सेक्रेटरी दिलीप दलवी, प्रमिला गुप्ता सीनियर बॉलीवुड सिंगर, अभिजीत राणे धड़क ऑल फ़िल्म एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटररी, अनीता सहगल अभिनेत्री एवं कई साहित्यकार हैं।
आगरा के अतिथियों में ईश्वर दयाल जी क्षेत्र प्रमुख, धर्म जागरण समन्वय, अमर साहनी, पूरण डावर, नारायण दास, अशोक जैन, मंगल सिंह, मनोज खान, सतीश अरोरा, नवल किशोर, मुकेश नेचुरल, गिरधारी लाल, जीवत राम करीरा, सोम ठाकुर, रामेन्द्र मोहन त्रिपाठी आदि होंगें।
प्रेस वार्ता में फेस्टिवल मुख्य को ऑर्डिनेटर डॉ.महेश धाकड़, मुख्यजनो में रंगकर्मी एसके जैन, उमाशंकर मिश्र, चंचल उपाध्याय, संजय दुबे, हरीश आहूजा, डॉ.प्रदीप कश्यप, अरुण वर्मा आदि  शामिल थे।
तीनों दिन का फ़िल्म फ़ेस्टिवल सभी के लिए फ्री है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!