UA-204538979-1

जब ताजमहल से टकरा कर फिज़ा में गूंज उठी थी उनकी कई लोकप्रिय गजलें

आगरा से लगाव था पंकज उधास को, छह बार आए थे आगरा, प्रशंसकों में उनके निधन से छाया शोक। ब्रज

Read more

वसंतोल्लास कार्यक्रम में कलाकारों ने संगीत के माध्यम से विभिन्न रंगों की छटा बिखेरी

ब्रज पत्रिका, आगरा। पं. रघुनाथ तलेगांवकर फाउंडेशन ट्रस्ट और संगीत कला केन्द्र आगरा के संयुक्त तत्ववधान में वसंतोल्लास कार्यक्रम का

Read more

अब आगरा शहर को एक आध्यात्मिक पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने का समय आ गया है-महंत योगेश पुरी

आगरा और बटेश्वर के शिव मंदिरों के कालक्रम पर सेमिनार “आगरा बियॉन्ड ताज” होटल डबल ट्री बाय हिल्टन में संपन्न

Read more

युवाओं को हिंदी साहित्य के प्रति जागरूक करेगा वंदे गुरू साहित्य समागम-2024

– 10 फरवरी को आयोजन में जुटेंगे देशभर के साहित्यप्रेमी। – हिंदी को राष्ट्र भाषा का दर्जा दिलाने पर भी

Read more

आध्यात्मिक और सांस्कृतिक गतिविधियों का केंद्र भी है थाईलैंड

इंडो-थाई कल्चरल कॉनक्लेव में हुआ साझा संस्कृति का आदान-प्रदान। बैंकॉक के संजय कुमार हुए कल्चरल एंबेसडर ऑफ इंडिया की उपाधि

Read more

स्वाधीनता आंदोलन में क्रांति के शोले भड़काती थी करुणेश जी की कलम

नागरी प्रचारिणी सभा के स्थापना दिवस पर चित्र का अनावरण, वरिष्ठ साहित्यकारों का भी हुआ अभिनंदन। ब्रज पत्रिका, आगरा। क्रांतिकारी

Read more

एक फरवरी से होगा संस्कार भारती का चार दिवसीय अखिल भारतीय कला साधक संगम

श्री श्री रविशंकर आश्रम बेंगलुरु में आगरा सहित देश भर से जुटेंगे दो हजार से अधिक कला साधक, दुनिया को

Read more

भारत के गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी ने लॉन्च किया गीतांजलि शर्मा का भजन ‘श्रीराम आगमन’

अयोध्या में श्रीराम लला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह और श्रीराम के आगमन से होगा पुनः सनातन युग का आरंभ :

Read more

आगरा के बेटे को मिल सकता है इस बार सिनेमा जगत का प्रतिष्ठित फिल्म फेयर अवार्ड

दुष्यंत की फ़िल्म ‘ज़िंदगी शतरंज है’ फिल्म फेयर-2024 (पीपुल्स च्वाइस) के लिए नामित हुई है। आगरा में जन्मे और पले-बढ़े

Read more

हजारों ख्वाहिशें ऐसी कि हर ख्वाहिश पे दम निकले…

ब्रज पत्रिका, आगरा। प्रख्यात शायर मिर्जा असदउल्लाह खां ‘ग़ालिब’ की 226वीं सालगिरह के मौके पर बज़्म-ए-ग़ालिब का आयोजन ग्रैंड होटल,

Read more

निनाद का हुआ रंगारंग समापन, अतिथि और स्थानीय कलाकारों ने सुर और ताल से सुसज्जित संध्या में भरे मनमोहक रंग

द्विदिवसीय 59वें निनाद महोत्सव का आस्था गोडबोले कार्लेकर के कत्थक नृत्य एवं डॉ. विपुल कुमार रॉय के संतूर वादन की

Read more
error: Content is protected !!