जीत तभी समझें, जब जनता कहे हमारी पुलिस-एसएसपी

-अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद ने एसएसपी व उनकी टीम के 104 पुलिसकर्मियों को किया सम्मानित।

-भारत माता के जयकारे और जय हिन्द के नारों की गूंज के साथ हुआ पुलिसकर्मियों का सम्मान।

ब्रज पत्रिका, आगरा। जब जनता को लगने लगे कि हमारी पुलिस। समझ लीलिए हम सफल हो गए। और कुछ ऐसा ही आभास आज यहां सम्मान समारोह में हो रहा है। सम्मान का उत्साह और ऊर्जा सिर्फ सम्मानित हुए 104 पुलिसकर्मियों में ही नहीं, वरन आगरा जिले के सभी पांच हजार पुलिसकर्मियों को महसूस हो रहा है। यह कहना था एसएसपी बबलू कुमार का।

वह खंदारी चौराहा स्थित होटल सागर रत्ना में अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद व ट्रैडर्स एंड इंडस्ट्रीज वैलफेयर एसोसिएशन के संयुक्त तत्वावधान में उत्कृष्ट कार्यों के लिए आयोजित एसएसपी व उनकी टीम के सम्मान समारोह कार्यक्रम में बोल रहे थे।

एसएसपी बबलू कुमार ने सम्मान के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि,

“नागरिक के तौर पर लोग पुलिस को अच्छा नहीं समझते। किसी अच्छे कार्य के लिए पुलिस को धन्यवाद कहने वाला कोई नहीं होता, जबकि गलतियों पर जनता, अधिकारी, नेता और मीडिया सभी टोकते हैं।”

उपस्थित पुलिसकर्मियों से उन्होंने कहा कि,

“आप अपनी वर्दी के साथ तभी न्याय कर सकते हैं, जब जनता को सुरक्षा प्रदान करें।”

भारत माता के जयकारों और जय हिन्द के नारों के साथ स्मृति चिन्ह व शॉल पहनाकर पुलिसकर्मियों को मुख्य अतिथि नगर विकास मंत्री महेश गुप्ता, मेयर नवीन जैन, परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. सुमन्त गुप्ता द्वारा सम्मानित किया गया। संचालन राष्ट्रीय प्रधान महासचिव विनय अग्रवाल ने किया।

इस अवसर पर मुख्य रूप से कार्यक्रम संयोजक विनोद अग्रवाल, अध्यक्ष अशोक अग्रवाल (फरह), सुदीप गर्ग, बसंत गुप्ता, कौशल सिंघल, संजय अग्रवाल, डॉ. अशोक अग्रवाल, डॉ. आकाश अग्रवाल (एमएलसी), डॉ. राकेश गुप्ता, महेन्द्र खंडेलवाल, प्रवीन अग्रवाल, दिनेश गोयल, कुलवन्त मित्तल, ममता सिंघल, शीतल अग्रवाल, धीरेन्द्र गुप्ता, किशन कुमार गोयल, सतीश गुप्ता, अमित बंसल, उमेश अग्रवाल, शैलू अग्रवाल, मयंक अग्रवाल, जितेन्द्र अग्रवाल, दीपक अग्रवाल, कुलवन्त मित्तल, पुष्पेन्द्र अग्रवाल, संतोष आदि मौजूद थे।

पुलिस की मदद और अपराधियों को पकड़वाने में मदद के लिए ज्यादा से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे लगवाएं।

आगरा। एसपी सिटी रोहन पी. बोत्रे ने सम्मान पत्र प्राप्त करते हुए व्यापारियों से अपेक्षा पूछे जाने के सवाल पर कहा कि, यदि व्यापारी पुलिस की मदद करना चाहते हैं तो अधिक से अधिक सीसीटीवी कैमरे लगवाएं। अच्छी क्वालिटी के सीसीटीवी कैमरे होटलों, पैट्रोल पम्प व व्यवसायिक स्थानों पर अवश्य होने चाहिए। इससे पुलिस को मदद, शहरवासी सुरक्षित और अपराधियों को पकड़ने में काफी मदद मिलेगी। उन्होंने विशेष तौर पर बेहतर कार्य के लिए सर्विलांस टीम के लिए तालियां बजवाईं। उन्होंने कहा कि पुलिस अपने पर आ जाए तो घटना या अपराधी कोई भी हो बच नहीं सकता।

इस कारण हुआ सम्मान।

आगरा। कार्यक्रम के संयोजक विनोद अग्रवाल ने बताया कि एसएसपी व उनकी टीम का सम्मान मुख्य रूप से राजपुर चुंगी में हुए कत्याकाण्ड के खुलासे, 60 लाख की बैंक डकैती के चार दिन में खुलासे व लायर्स कॉलोनी में 14 लाख की डकैती के खुलासे जैसे उत्कृष्ट कार्यों के लिए किया गया। वहीं राष्ट्रीय प्रधान महासचिव विनय अग्रवाल ने हर महीने पुलिस के साथ व्यापारियों की एक बैठक की मांग रखी। जिससे व्यापारी वर्ग पुलिस के समक्ष बिना भय के अपनी समस्याओं को रख सके।

छह-सात फरवरी को अलीगढ़ में होगा राष्ट्रीय अधिवेशन।

आगरा। अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद का राष्ट्रीय अधिवेशन छह-सात फरवरी को अलीगढ़ में आयोजित किया जा रहा है।

परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. सुमन्त गुप्ता ने यह जानकारी देते हुए कहा कि,

“अधिवेशन में व्यापारियों द्वारा बड़ी धनराशि श्री राम मंदिर के निर्माण के लिए प्रदान की जाएगी, 110 विधानसभा क्षेत्र ऐसे हैं, जो वैश्य बाहुल्य हैं। मांग की जाएगी कि यहां से वैश्य प्रत्याशी उतारे जायें।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!