भारत में प्राइम डे 2020 के दौरान अमेज़न ने चार तकनीकी उपकरणों की मदद से अपने एसोसिएट्स की सुरक्षा सुनिश्‍चित की

ब्रज पत्रिका। अमेज़न इंडिया ने छह और सात अगस्त, 2020 को अपने दो-दिवसीय शॉपिंग इवेंट – प्राइम डे का आयोजन किया, जो देश भर के अमेज़न सदस्यों के लिए था। इस आयोजन ने अमेजन इंडिया के ऑपरेशन नेटवर्क में सामान्य दिनों के मुकाबले अधिक व्यस्तता बनाये रखी गयी। वैश्‍विक महामारी के शुरुआती दिनों से ही, अमेज़न इंडिया अपने एसोसिएट्स, ग्राहकों और पार्टनरों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है, जिसके लिए अमेज़न ने स्थानीय अधिकारियों और विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्‍लूएचओ) के मार्गदर्शन के अनुसार, अपने फुलफिलमेंट सेंटर, सॉर्टेशन सेंटर और डिलिवरी स्टेशनों में प्रोसेस संबंधी लगभग 100 परिवर्तन किये हैं। यहां कंपनी द्वारा किये गये कई तकनीकी प्रयासों में से चार के बारे में बताया गया है। इन प्रयासों के कारण कंपनी अपने एसोसिएट्स की सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए भारत में प्राइम डे के दौरान बिना किसी रुकावट के ग्राहकों से किये गये वादों को बड़े पैमाने पर पूरा करने में सक्षम रही।

सोशल डिस्टेंसिंग इम्प्लिमेंटेशन/टूल सीसीटीवी आधारित सॉल्‍यूशन, प्रोक्सेमिक्‍स, ने अमेज़न इंडिया के ऑपरेशन बिल्‍डिगों में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग करके सोशल डिस्‍टैंसिंग को सक्षम बनाया। फुलफिलमेंट सेंटर (एफसी), सॉर्ट सेंटर और डिलीवरी स्टेशन में, जहां जमा होने वाले लोगों की संख्‍या अधिक होती है, स्‍थापित सीसीटीवी से हर पांच मिनट में फोटो कैप्चर किये जाते हैं और ये फोटो इमेज प्रोसेसिंग एल्गोरिदम का उपयोग करके प्रोसेस किये जाते हैं। यह सुनिश्‍चित करने के लिए कि दो मीटर/6 फीट की दूरी बनाये रखी गयी, एक फ्रेम में दो से अधिक व्यक्तियों के होने की पहचान करने के लिए फोटो को फ़िल्टर किया जाता है।

नॉन-कॉन्‍टैक्‍ट इन्फ्रारेड थर्मल जांच अमेज़ॅन साइट में प्रवेश करने वाले सभी व्यक्तियों को, जिनमें कर्मचारी, एसोसिएट, ठेकेदार, बिजनेस पार्टनर या आने वाले अन्‍य लोग शामिल हैं, साइट के प्रवेश द्वार पर ही स्क्रिनिंग की जाती है। स्कैनिंग और तापमान जांच के लिए नॉन-कॉन्‍टैक्‍ट इन्फ्रारेड थर्मामीटर और थर्मल कैमरों का उपयोग किया जाता है। थर्मल कैमरा सेंसर का उपयोग करता है ताकि बढ़े हुए तापमान की स्क्रिनिंग के लिए कैमरे को सक्षम बनाया जा सके, और बुखार की पहचान की जा सके, जो कि कोविड-19 का एक सामान्य लक्षण है।

ग्राहकों से मिले फीडबैक संदेशों का एकीकरण अमेज़न इंडिया और उसके ग्राहक महामारी के दौरान अमेज़न इंडिया के फुलफिलमेंट नेटवर्क में अपने एसोसिएट्स द्वारा निभाई गई महत्वपूर्ण भूमिका का सम्‍मान करते हैं। एसोसिएट की कड़ी मेहनत के संदर्भ में, ग्राहकों से मिली इस मान्यता और संदेशों को नियमित रूप से एसोसिएट्स तक पहुंचाया जाता है। इसे सुनिश्‍चित करने के लिए, ग्राहक सेवा टीम को मिले और सोशल मीडिया से एकत्र किए गए ग्राहकों के सकारात्मक प्रशंसा और टिप्‍पणियों को देश भर में डिलीवरी एसोसिएट्स द्वारा उपयोग किए जाने वाले ऐप पर दिखाया जाता है।

इस कम्‍यूनिकेशन में वर्तमान चुनौतीपूर्ण समय में सेवाओं की पेशकश करने के मामले में एसोसिएट के प्रति आभार प्रकट करने वाले संदेश शामिल हैं, जो एसोसिएट के लचीलेपन और दृढ़ संकल्प के प्रति सम्‍मान प्रकट करते हैं। इन-ऐप सेफ्टी कम्‍यूनिकेशन इन-हाउस एसोसिएट एप्लिकेशन में पॉप-अप के रूप में सुरक्षा संदेश दर्शाये जाते हैं, जो हर दिन नियमित अंतराल पर आते रहते हैं। इस तकनीकी टूल को बहुत कम समय में विकसित किया गया था ताकि इसके जरिये सुरक्षा दिशा-निर्देशों को संप्रेषित किया जा सके, और हर बार जब एसोसिएट किसी कार्य को करने के लिए ऐप खोले तो उसे संदेश मिल सके।

कई सारे एसोसिएट्स को थोक में संदेश भेजने के लिए मैनेजरों के लिए एक मैक्रो-एनेबल्‍ड टूल भी बनाया गया जो व्यक्तियों के एक जगह जमा होने और बैठक करने की व्‍यवस्‍था के विकल्‍प के तौर पर काम करना सुनिश्‍चित कर सके। अमेज़ॅन इंडिया के संचालन के मामले में मूल तत्‍व सुरक्षा है। कंपनी अपने एसोसिएट्स और ग्राहकों की सुरक्षा के उपायों को मजबूत करने के लिए अधिक से अधिक तकनीकी इनावेशन विकसित करना जारी रखेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!