UA-204538979-1

क्या देवी पलाॅमी इंद्रेश की जिंदगी से स्वाति को बाहर निकालने में होंगी कामयाब!

ब्रज पत्रिका। एण्ड टीवी के शो ‘संतोषी मां सुनाएं व्रत कथाएं‘ में भक्त और भगवान के बीच के सच्चे संबंध को बड़ी ही खूबसूरती से बयां किया गया है। शो में, संतोषी मां (ग्रेसी सिंह) हर कदम पर अपनी अनन्य भक्त स्वाति (तन्वी डोगरा) का मार्गदर्शन करती हैं और उसकी हर बाधा को दूर करने में उसकी मदद करती हैं, जिससे उसकी जिंदगी में हलचल आने की संभावना होती है। पिछले एपिसोड में, दर्शकों ने देखा कि कैसे संतोषी मां ने स्वाति को इंद्रेश (आशीष कादियान) की जिंदगी बचाने के लिए वट सावित्री का व्रत करने में मदद की। आगामी एपिसोड में, एक नया ट्विस्ट आने वाला है, जिससे स्वाति की जिंदगी में भूचाल आएगा।

इससे पहले, सिंहासन सिंह (सुशील सिन्हा) चाहता है कि इंद्रेश और निधि (धरती भट्ट) की जल्द से जल्द शादी हो जाए। हालांकि, इंद्रेश सभी का पुरजोर विरोध करता है क्योंकि वह स्वाति से शादी करना चाहता है। इस वजह से निधि इंद्रेश की जिंदगी से बाहर निकल जाती है। लेकिन इन घटनाओं के नाटकीय मोड़ में, एक भयंकर दुर्घटना में घायल हुए इंद्रेश की जिंदगी बचाने के लिए निधि डाॅक्टर के रूप में वापसी करती है।

देवी पाॅलोमी (सारा खान) स्वाति से बदला लेने और उसकी जिंदगी में उथल-पुथल मचाने के लिए आतुर है। यह ड्रामा और बढ़ जाता है, जब इंद्रेश का इलाज करने वाली निधि पर देवी पाॅलोमी कब्जा कर लेती हैं। वह अचानक से हर किसी के साथ अलग तरह से बात करने लगती है और इससे कई सवाल उठते हैं और भ्रम पैदा होता है। देवी पाॅलोमी का उद्देश्य स्वाति को इंद्रेश की जिंदगी से बाहर निकालना है और ऐसा करने में, वह लंबे समय से तरह-तरह की तरकीबें आजमा रही है। इंद्रेश को मारने के प्रयास में नाकाम होने के बाद, पाॅलोमी निधि के शरीर में प्रवेश करने का फैसला करती है ताकि उसके कामों को अपने वश में कर सके। निधि को पता नहीं है कि उसके साथ क्या हो रहा है, वह देवी पाॅलोमी के वश में होने के कारण उसके हर निर्देश का पालन करती है।

इस जबर्दस्त ड्रामा के बारे में बात करते हुए निधि का किरदार अदा कर रही धरती भट्ट ने कहा,

‘‘इंद्रेश की जिंदगी में निधि की वापसी स्वाति के लिए ज्यादा अच्छी नहीं रही है। निधि इंद्रेश और उसके परिवार से अभी भी उसका शादी का प्रस्ताव ठुकराने के कारण बहुत नाराज है। लेकिन एक डाॅक्टर होने के नाते वह अपना कर्तव्य निभा रही है, जब तक कि देवी पाॅलोमी उसके शरीर को अपने वश में नहीं कर लेती। इससे स्वाति और इंद्रेश की जिंदगी में भूचाल आ जाता है और निधि की पवित्र पेशकश के बाद इंद्रेश की जिंदगी पूरी तरह बदल जाती है।”

इंद्रेश में आखिरकार यह बदलाव क्या होगा, जिससे स्वाति की जिंदगी में उथल-पुथल होगी, तथा उसकी चिंताएं और ज्यादा बढ़ जाएंगी। निधि की एंट्री से शो में काफी ड्रामा आने वाला है। अभी यह देखा जाना बाकी है कि क्या स्वाति सब कुछ पलटने में कामयाब होगी? स्वाति अपनी जिंदगी में इस नई बाधा का सामना कैसे करेगी? क्या देवी पाॅलोमी स्वाति की जिंदगी में इस बार भूचाल लाने के अपने प्रयासों में सफल हो पाएंगी?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!