केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री ने पीडीआईएल से वित्‍त वर्ष 2019-20 के लिए 9.55 करोड़ रुपये का लाभांश और 2020-21 के लिए 6.93 करोड़ रुपये का अंतरिम लाभांश प्राप्‍त किया

ब्रज पत्रिका। केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री डी. वी. सदानंद गौड़ा ने प्रोजेक्‍ट्स एण्‍ड डेवलेपमेंट इंडिया लिमिटेड (पीडीआईएल) के निदेशक वित्‍त डी. एस. सुधाकर रमैया से वित्‍त वर्ष 2019-20 के लिए 9.55 करोड़ रुपये और वित्‍त वर्ष 2020-21 के लिए 6.93 करोड़ रुपये के अंतरिम लाभांश का चेक प्राप्‍त किया। यह चेक सचिव (ऊर्वरक) आर. के. चतुर्वेदी और संयुक्‍त सचिव अपर्णा शर्मा तथा पीडीआईएल के वरिष्‍ठ अधिकारियों की मौजूदगी में सौंपा गया।

पीडीआईएल ने 2019-20 में ऐतिहासिक और अब तक का सबसे उच्‍चतम वित्‍तीय प्रदर्शन किया है, जिसके तहत उसने 133.01 करोड़ रुपये की लागत के काम-काज से राजस्‍व, 142.16 करोड़ रुपये की कुल आमदनी, टैक्‍स पूर्व 45.86 करोड़ का लाभ और टैक्‍स के बाद 31.83 करोड़ का लाभ हासिल किया है।

पीडीआईएल वर्तमान में एचयूआरएल और तलचर परियोजना की तीन प्रमुख परियोजनाओं के लिए पीएमसी सेवा मुहैया करा रहा है और इसके साथ ही तेल एवं गैस क्षेत्र में अन्‍य कार्यादेशों का पालन कर रहा है।

पीडीआईएल एक मिनि रत्‍न, श्रेणी-1 तथा प्रमुख डिज़ाइन इंजीनियरिंग एवं परामर्शदाता संगठन है जो परियोजना पूर्व गतिविधियों, परियोजना प्रबंधन परामर्श, डिज़ाइन एवं इंजीनियरिंग तथा गुणवत्‍ता आश्‍वासन सेवाएं प्रदान करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!