‘जीजाजी छत पर कोई है’ शो में मिस्ट्री का टि्वस्ट डाला गया है। दर्शकों के सामने वैसी ही कॉमेडी की सजावट के साथ नई कहानी पेश करते हुए काफी अच्छा लग रहा है-अनूप उपाध्याय

ब्रज पत्रिका। ‘’सारे कलाकार एक बड़े परिवार की तरह हैं!’’ यह कहना है सोनी सब के ‘जीजाजी छत पर कोई हैं’ के अनूप उपाध्याय उर्फ जल्दीराम का।

अपने अभिनय से दर्शकों के बीच बेहद लोकप्रिय हो चुके अनूप उपाध्याय से जाने हैं हमने उनके अनुभव, प्रस्तुत हैं इस बातचीत के ये संपादित अंश।

‘जीजाजी छत पर कोई है’ सीरीज के साथ सोनी सब पर वापसी करते हुए कैसा महसूस हो रहा है?

“इस शो में वापसी करते हुए बहुत अच्छा लग रहा है। ‘जीजाजी छत पर हैं’ एक कमाल का शो था और दर्शकों को काफी पसंद भी आया था। अब यह शो दर्शकों की मांग पर वापस लौटा है और बतौर कलाकार यह एक शानदार अनुभव है। इस शो को वापस लाने के लिये मैं सोनी सब का शुक्रगुजार हूं। पूरी टीम के साथ दोबारा काम करने की खुशी हो रही है। शो में मिस्ट्री का टि्वस्ट डाला गया है। दर्शकों के सामने वैसी ही कॉमेडी की सजावट के साथ नई कहानी पेश करते हुए काफी अच्छा लग रहा है।”

अपने किरदार के बारे में कुछ बतायें?

“मैं जल्दीराम का किरदार निभा रहा हूं, जिसकी पंजाबी बाग में मिठाई की दुकान है। हम एक बहुत बड़ी-सी हवेली में रहते हैं, लेकिन इस हवेली को लेकर जिंदल परिवार के साथ कुछ विवाद चल रहा है। यह जिंदल परिवार हमारे ऊपर वाले फ्लोर पर रहता है। हम बचपन के दोस्त हैं और इस हवेली के मालिकाना हक के लिये कोर्ट में हमारी कानूनी लड़ाई चल रही है। जल्दी राम और नन्हे के बीच का रिश्ता कभी नरम तो कभी गरम वाला है। इस शो में परिवार के लोगों के बीच आम नोंक-झोंक चलती रहती है। दोनों ही परिवार अपने आस-पास रह रहे लोगों से झगड़ता रहता है। अपनी बेटी के साथ मेरा बड़ा ही प्यारा रिश्ता है और मैं अपनी पत्नी को भी बहुत चाहता हूं। जल्दीराम और नन्हेे की इस लड़ाई की सबसे अच्छी‍ बात यह है कि यह अपनी-सी लगती है, जैसा कि हम अपने आस-पास भी देखते हैं।”

इस नई कहानी और जोनर के बारे में आपका क्या कहना है- कॉमेडी के साथ मिस्ट्री का यह मेल आपको कैसा लगा?

“यह काफी दिलचस्प कॉन्सेप्ट है। कहानी में कॉमेडी के साथ मिस्ट्री की चाशनी घोल दी गयी है। मिस्ट्री के मेल से यह कहानी पहले से भी ज्यादा रोमांचक हो गयी है। दर्शक इस शो को उत्सुकता से देखेंगे और उन्हें अगले एपिसोड्स का इंतजार रहेगा। बीच-बीच में गुदागुदा देने वाले भी कई पल आते रहते हैं। इसलिये मुझे लगता है दो जोनर का यह मेल काफी अच्छा है। इस कहानी में कॉमेडी और मिस्ट्री की यह जुगलबंदी दर्शकों को हंसायेगी भी और उनके मन में सस्पेन्स का द्वंद्व भी चलता रहेगा। ‘जीजाजी छत पर कोई है’ हमारे दर्शकों के लिये कॉमेडी का एक तो‍हफा है।”

अपने को-स्टार्स के साथ दोबारा काम करते हुए कैसा लग रहा है ? साथ ही नये कलाकारों के साथ काम करने का अनुभव कैसा है?

“मैंने पहले भी हिबा नवाब, सोमा राठौर और फिरोज़ के साथ काम किया है। वैसे सोनी सब के कई शोज़ में मैंने जीतू शिवहरे और सुचेता खन्ना के साथ भी काम किया है। सोनी सब तो एक बड़े परिवार की तरह है, जिसने हम सबको जोड़कर रखा है।”

अपने फैन्स से कुछ कहना चाहेंगे?

“अपने सभी फैन्स और प्यारे-प्यारे दर्शकों से मेरी गुजारिश है कि ‘जीजाजी छत पर कोई हैं’ देखते रहें। हम आपके लिये लेकर आये हैं कॉमेडी और मिस्ट्री का एक अनूठा मेल। जैसे-जैसे यह शो आगे बढ़ेगा इसमें काफी सारे ट्विस्ट् आयेंगे और दर्शकों के सामने कई रहस्यों से परदा उठेगा। तो फिर चैन से बैठ जाइये और कॉमेडी से भरपूर सफर का मजा लीजिये।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!