उत्तर प्रदेश में बनेगी 1000 एकड़ जमीन पर अत्याधुनिक सुविधाओं से सम्पन्न फ़िल्म सिटी

ब्रज पत्रिका। यमुना एक्सप्रेस वे की करीब 1000 एकड़ जमीन पर फ़िल्म सिटी बनने जा रही है। ग्रेटर नोएडा सेक्टर 21 से 1000 एकड़ भूमि पर इसका विकास किया जायेगा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मुताबिक 50 साल की जरूरतों को देखकर डेडिकेटेड इन्फोटेनमेंट ज़ोन बनाया जा रहा है। प्रस्तावित फ़िल्म सिटी के लिए 780 एकड़ और व्यावसायिक गतिविधियों के लिए 220 एकड़ जमीन रखी जायेगी। मथुरा वृंदावन से 60, आगरा से 10, ज़ेवर एयरपोर्ट से छह किलोमीटर दूरी होगी। 35 एकड़ में फ़िल्म सिटी पार्क भी विकसित किया जायेगा।

इस फ़िल्म सिटी की व्यापक रूपरेखा के लिए फिल्मी हस्तियों की एक बैठक मुख्यमंत्री आवास पर 22 सितंबर को बुलाई गई थी। जिसमें अनुपम खेर, परेश रावल, उदित नारायण, नितिन देसाई, कैलाश खेर, अनूप जलोटा, अशोक पंडित, सतीश कौशिक आदि भी शामिल हुए थे। हाल ही में बॉलीवुड के ड्रग्स माफियाओं से घिरने की खबरें आने और उनमें फिल्मी सितारों के लिप्त होने की खबरों के बाद एक साफ सुथरी फ़िल्म सिटी की जरूरत हिंदी भाषी प्रदेशों में महसूस की जा रही थी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि,

“फिल्में समाज का दर्पण हैं। फिल्मों ने हमारी संस्कृति से विश्व जगत को परिचित कराया है। प्रदेश में फिल्म निर्माण को बढ़ावा देने व स्थानीय प्रतिभाओं को विशेष अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में ‘मॉडर्न फिल्म सिटी’ व ‘इंफोटेनमेंट जोन’ की स्थापना का निर्णय लिया है। उ.प्र. में अपूर्णता का कोई स्थान नहीं। यहां अधूरा कुछ नहीं होता। यह प्रभु श्री राम, श्री कृष्ण, भगवान बुद्ध, कबीर व महावीर जी की धरती है, यह सभी ‘पूर्णता के प्रतीक’ हैं। उ.प्र. अपनी परंपरा के अनुरूप वैश्विक सिनेमा की जरूरतों के अनुरूप दिव्य-भव्य, ‘पूर्ण फिल्म सिटी’ का उपहार देगा।”

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस दिशा में तत्परतापूर्वक फैसला लिया और उत्तर प्रदेश में नोएडा या फिर ग्रेटर नोएडा में फ़िल्म सिटी की स्थापना की मंशा जताई। इसके बाद मशीनरी सक्रिय हुई और अंततः ग्रेटर नोएडा में जमीन की तलाश कर ली गयी। मुख्यमंत्री ने तकनीकी रूप से समृद्ध फ़िल्म सिटी के लिए भूमि चिन्हित करने के आदेश संबंधित अधिकारियों को दिए थे। इस फ़िल्म सिटी के बन जाने से उत्तर प्रदेश के लोगों को सीधा लाभ मिलेगा। प्रदेश के अलावा आसपास के युवाओं को भी इसका लाभ मिल सकेगा।

ब्रज के शहरों को होगा ‘फ़िल्म सिटी’ बनने से लाभ

इसके बनने से ब्रज क्षेत्र को भी फ़ायदा मिलेगा। यमुना एक्सप्रेस वे नोएडा में फ़िल्म सिटी बनने से ब्रज के शहरों की सीधी कनेक्टिविटी होने के साथ-साथ फ़िल्म सिटी में आगरा, मथुरा, हाथरस और अलीगढ़ के काफी गाँवों को भी इस फ़िल्म सिटी की योजना में शामिल किए जाने की उम्मीदों को पंख लग गए हैं। आगरा में ताजमहल सहित विभिन्न विश्व दाय स्मारकों पर शूटिंग होती रही हैं। इसके अलावा मथुरा में भी काफी लोकेशन हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!